शुगर और ब्लड प्रेशर जाँच एवं परामर्श केंद्र की पहली वर्षगांठ

0

हेल्थ एंड एजुकेशन प्रमोशन ट्रस्ट (हेप्ट) की एक पहल ‘स्वस्थ नहटौर’ के तहत स्थापित ‘शुगर और ब्लड प्रेशर जाँच एवं परामर्श केंद्र’ की पहली वर्षगांठ सादगी से मनाई गई। इस अवसर पर पूर्व आयोजित एक ट्रेनिंग वर्कशॉप
को सफलता पूर्वक पूरा करने वाले केंद्र के 50 हेल्थ वालंटियरों को प्रमाण पत्र भी प्रदान किये गये। मैहदी विला नहटौर में आयोजित इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि दिल्ली उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश, न्यायमूर्ति तलवंत सिंह थे जबकि पूर्ण बोरा आईएएस, सीडीओ बिजनौर और डॉ. विकास त्यागी विशिष्ट अतिथियों के रूप में शामिल हुए। मंच पर हेप्ट ट्रस्टी हसन अब्दुल्ला भी मौजूद थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता पूर्ण बोरा ने की। ट्रस्ट के सचिव ग़िज़ाल मैहदी ने केंद्र की गतिविधियों की संक्षिप्त जानकारी दी और कहा कि केंद्र की निःशुल्क सेवाएं पूरे वर्ष निरंतर जारी रहीं। इस बीच 55 चिकित्सा जांच एवं परामर्श शिविर आयोजित किये गये। केंद्र से जुड़े 50 हेल्थ वालंटियरों को प्रशिक्षित करने के लिए डॉ विकास त्यागी की देखरेख में एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। इसके अलावा 12वीं कक्षा (बायोलॉजी) उत्तीर्ण करने वाले 55 विद्यार्थियों के लिए गाइडेंस एवं काउंसलिंग सत्रों का आयोजन किया गया। ग़िज़ाल मैहदी ने कहा कि जनवरी 2024 से केंद्र में एक सार्वजनिक पुस्तकालय शुरू किया जाएगा और केंद्र की मुफ्त सेवाओं के तहत नगर पालिका के सभी वार्डों में शिविर आयोजित किए जाएंगे।
हेपट की ओर से हसन अब्दुल्ला ने बड़ी संख्या में “स्वस्थ नहटौर” अभियान में शामिल होने के लिए लोगों को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि ट्रस्ट का उद्देश्य व्यापक अर्थों में शिक्षा और स्वास्थ्य के लिए काम करना है।


डॉ. विकास त्यागी ने केंद्र के हेल्थ वालंटियरों के लिए आयोजित ट्रेनिंग वर्कशॉप से संबंधित अपने अनुभव बताये और उनके समर्पण, लगन और क्षमता की सराहना की। उन्होंने कहा कि चूंकि शुगर और उच्च ब्लड प्रेशर साइलेंट किलर अर्थात ख़ामोश क़ातिल हैं, इसलिए ऐसे जाँच और परामर्श केंद्र स्थापित करने की तत्काल आवश्यकता है।
मुख्य अतिथि न्यायमूर्ति तलवंत सिंह ने शुरुआत से ही हेप्ट के साथ अपने अनौपचारिक जुड़ाव के बारे में बात की। उन्होंने लोगों से अपील की कि वे स्वयं, अपने परिवार, अपने दोस्तों और पड़ोसियों को अपने शुगर और ब्लड प्रेशर की जांच के लिए प्रोत्साहित करें और केंद्र की मुफ़्त सेवाओं का लाभ उठाएं और इसकी पहुंच अन्य क्षेत्रों तक बढ़ाएं।


सीडीओ बिजनौर पूर्ण बोरा ने हेप्ट द्वारा जनसेवा की सराहना की और राष्ट्र निर्माण में ग़ैर सरकारी संगठनों, एनजीओ की भूमिका पर प्रकाश डाला। उन्होंने हेप्ट के पदाधिकारियों को अपने कार्यालय और ज़िले के अन्य सरकारी अधिकारियों से हर संभव सहयोग का आश्वासन दिया। उन्होंने सरकार की विभिन्न योजनाओं के बारे में लोगों को जागरूक करने की जरूरत पर बल दिया।
डॉ. विकास त्यागी की देखरेख में ट्रेनिंग वर्कशॉप को सफलतापूर्वक पूरा करने वाले केंद्र के 50 हेल्थ वालंटीयरों को न्यायमूर्ति तलवंत सिंह और सीडीऒ पूर्ण बोरा के हाथों प्रमाण पत्र वितरित किए गए। इस अवसर पर मशहूर शायर जनाब अज़ीज़ नहटौरी ने भी अपनी कविताएँ पेश कीं।
कार्यक्रम का संचालन ग़िज़ाल मेहदी और इताअत हुसैन ने किया।

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *