Coonoor Helicopter Crash Six More People Who Died In Helicopter Crash Were Identified Five Were Cremated

0
2
56 Views


Helicopter Crash: कुन्नूर के नजदीक भारतीय वायुसेना के हेलीकॉप्टर दुर्घटना में मृत छह और लोगों के शवों की पहचान हो गई है और एक को छोड़कर उनमें से सभी का अंतिम संस्कार शनिवार को उनके निवास स्थान पर पूरे सैन्य सम्मान के साथ किया गया. वायुसेना के हेलीकॉप्टर के बुधवार को दुर्घटनाग्रस्त होने से प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी मधुलिका और उनके रक्षा सलाहकार ब्रिगेडियर एल. एस. लिड्डर सहित 13 लोगों की मौत हो गई. जनरल रावत, उनकी पत्नी और ब्रिगेडियर लिड्डर का शुक्रवार की शाम को दिल्ली के बरार स्क्वेयर पर अंतिम संस्कार किया गया. अधिकारियों ने बताया कि शेष चार शवों की पहचान करने का प्रयास जारी है जिन्हें दिल्ली कैंट में सेना के बेस अस्पताल के मुर्दाघर में रखा गया है.

जूनियर वारंट अधिकारी (जेडब्ल्यूओ) ए. प्रदीप, विंग कमांडर पी. एस. चौहान, जेडब्ल्यूओ राणा प्रताप दास, स्क्वाड्रन लीडर कुलदीप सिंह और लांस नायक विवेक कुमार का अंतिम संस्कार कर दिया गया जबकि लांस नायक बी. साई तेजा का अंतिम संस्कार रविवार को होगा. जूनियर वारंट अधिकारी (जेडब्ल्यूओ) ए. प्रदीप का केरल के त्रिशूर जिले स्थित उनके पैतृक गांव में शनिवार को पूरे सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया.

अधिकारियों के मुताबिक उनके पार्थिव शरीर को पूर्वाह्न करीब 11 बजे दिल्ली से तमिलनाडु के कोयंबटूर स्थित सलूर वायुसेना हवाई अड्डा लाया गया और फिर वहां से सड़क मार्ग से केरल स्थित उनके गांव पहुंचाया गया. शहीद सैनिक को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए सड़क किनारे हजारों की संख्या में लोग मौजूद रहे.

Helicopter Crash: राजनाथ सिंह ने हेलिकॉप्टर हादसे में घायल ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह के पिता से की बात

शहीद प्रदीप के पार्थिव शरीर को दोपहर करीब तीन बजे उनके पुथुर स्थित स्कूल में अंतिम दर्शन के लिए रखा गया जहां सैकड़ों की संख्या में लोगों ने श्रद्धांजलि अर्पित की. बाद में शहीद के पार्थिव शरीर को उनके आवास पर ले जाया गया, जहां पर बेटे ने पिता को मुखाग्नि दी.

भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर पृथ्वी सिंह चौहान का शनिवार को आगरा के ताजगंज श्मशान घाट पर पूरे सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया. भारतीय वायु सेना के कर्मी चौहान के पार्थिव शरीर को सेना के वाहन में श्मशान घाट लाए और यहां गारद सलामी दी गयी.

चौहान के बेटे अविराज (7), बेटी आराध्या (12) और एक रिश्तेदार पुष्पेंद्र सिंह ने परिवार के सदस्यों, भारतीय वायु सेना, आगरा प्रशासन और पुलिस के अधिकारियों की मौजूदगी में चिता को मुखाग्नि दी. विंग कमांडर चौहान की बेटी आराध्या ने कहा कि वह अपने पिता के नक्शे कदम पर चलना चाहती है और वह भी भारतीय वायु सेना में पायलट बनना चाहती है. राजस्थान के झुंझुनूं में स्क्वाड्रन लीडर कुलदीप सिंह की पूरे सैन्य सम्मान के साथ शनिवार को अंत्येष्टि की गई. बड़ी संख्या में लोगों ने नम आंखों से सिंह को अंतिम विदाई दी.

इस दुर्घटना में जान गंवाने वाले कुलदीप सिंह के पार्थिव शरीर को शनिवार सुबह दिल्ली से हेलीकॉप्टर से झुंझुनूं हवाई अड्डे लाया गया. यहां जनप्रतिनिधियों, प्रशासनिक अधिकारियों ने उन्हें पुष्पांजलि अर्पित की. उनके पार्थिव शरीर को भारतीय वायुसेना के फूलों से सजे एक ट्रक में पैतृक गांव घरडाना खुर्द ले जाया गया. वहां शनिवार शाम बड़ी संख्या में मौजूदा ग्रामीणों ने नम आंखों से कुलदीप को अंतिम विदाई दी. उनकी पत्नी यशस्विनी ने उन्हें मुखाग्नि दी.

पूरे सैनिक सम्मान से स्क्वाड्रन लीडर कुलदीप सिंह को अंतिम विदाई दी गई. इस दौरान बार-बार ‘वंदे मातरम’, ‘भारत माता की जय’ व ‘कुलदीप अमर रहे’ के नारे गूंजते रहे. हिमाचल प्रदेश में लांस नायक विवेक कुमार का कांगड़ा जिले में स्थित उनके पैतृक गांव में पूरे सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया.

जयसिंहपुर के थेरू गांव के श्मशान घाट पर उन्हें बड़ी संख्या में लोगों ने अंतिम विदाई दी. जूनियर वारंट अधिकारी (जेडब्ल्यूओ) राणा प्रताप दास का पार्थिव शरीर शनिवार सुबह भुवनेश्वर हवाईअड्डे पर पहुंचा जहां मुख्यमंत्री नवीन पटनायक और अन्य गणमान्य लोगों ने उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की.

ओडिशा के अंगुल जिले के तालचर के रहने वाले दास को 120 इंफ्रेंट्री बटालियन के जवानों द्वारा गॉर्ड ऑफ ऑनर दिया गया. जेडब्ल्यूओ दास को हवाई अड्डे पर पुष्पचक्र अर्पित करने वालों में राज्य के मंत्री, विधायक और पुलिस महानिदेशक समेत शीर्ष पुलिस अधिकारी भी शामिल थे.

यहां से उनके पार्थिव शरीर को तालचर के कुंडाला पंचायत क्षेत्र के उनके पैतृक गांव कृष्णचंद्रपुर ले जाया गया. महानदी कोलफील्ड्स लिमिटेड ने उनके अंतिम संस्कार के लिए गांव में विशेष रूप से श्मशान घाट तैयार किया था. आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले के रहने वाले साई तेजा का अंतिम संस्कार रविवार को होगा. उनके शव को बेंगलुरू लाया गया जहां से उनके गांव येगुवारेगादिपल्ली ले जाया जाएगा.

रक्षा अधिकारियों के अनुसार तेजा का शव बेंगलुरू के कमान अस्पताल में रखा जाएगा और रविवार को उसे चित्तूर ले जाया जाएगा. जनरल रावत और उनकी पत्नी का अस्थि विसर्जन हरिद्वार में गंगा नदी में आज उनकी बेटियों तारिनी और कृतिका ने किया. जनरल रावत, ब्रिगेडियर लिड्डर और विंग कमांडर चौहान की याद में उनके संस्थान नेशनल डिफेंस एकेडमी पुणे में आज श्रद्धांजलि समारोह का आयोजन हुआ.

सेना के जिन कर्मियों के शवों की अभी तक पहचान नहीं हुई है उनमें लेफ्टिनेंट कर्नल हरजिंदर सिंह, हवलदार सतपाल, नायक गुरसेवक सिंह और नायक जितेंद्र कुमार शामिल हैं.

General Bipin Rawat: हरिद्वार में हुआ CDS बिपिन रावत और उनकी पत्नी का अस्थि विसर्जन, गंगा में बहाई गईं अस्थियां



Source link

Pulkit Chaturvedi
Senior journalist with over 13 years of experience covering various fields of Journalism.

Keen interests in politics, sports, music and bollywood.

Leave a Reply