पंचायत चुनाव के सातवें चरण में कश्मीर में 30.3 तो जम्मू में 84.8% मतदान

0

जम्मू। जम्मू-कश्मीर में मंगलवार को पंचायत चुनाव के सातवें चरण में कश्मीर में 30.3 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया जबकि जम्मू क्षेत्र में प्रभावशाली ढंग से 84.8 फीसदी मतदान हुआ। अधिकारियों ने बताया कि चुनाव के दौरान प्रतिद्वंद्वी समूहों के बीच झड़प के चलते कुछ लोगों को मामूली चोटें आईं। राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी शालीन काबरा ने बताया कि 12 जिलों में कुल 2,714 मतदान केंद्रों पर करीब 75.3 फीसदी मतदान हुआ। इनमें से 2,138 मतदान केंद्र जम्मू खंड में थे और 576 मतदान केंद्र कश्मीर खंड में थे। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि पुंछ जिले के मेंधार प्रखंड के गुरसाई तामी पंचायत में प्रतिद्वंद्वी उम्मीदवारों के समर्थकों के बीच झड़प हुई लेकिन मतदान पर इसका कोई असर नहीं पड़ा। सूत्रों ने बताया कि घटना में कुछ लोगों को मामूली चोट आई। वहीं पुलिस ने स्थिति को नियंत्रण में रखने के लिए मामूली लाठीचार्ज भी किया। जिलावार ब्यौरा देते हुए काबरा ने बताया कि सबसे ज्यादा मतदान कुपवाड़ा जिले में हुआ जहां 45 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया। इसके बाद गांदरबल (30.9), बांदीपुरा (25.2), बारामूला (17.8) अनंतनाग (15.5) और बड़गाम (13.1) जिले में मतदान हुआ। काबरा ने बताया कि जम्मू क्षेत्र में रियासी जिले में सबसे ज्यादा 86.7 प्रतिशत मतदान हुआ। इसके बाद पुंछ में 86.6, सांबा में 85.5, राजौरी में 84, जम्मू में 83.7 और रामबन में 83 फीसदी मतदान हुआ। काबरा ने बताया कि मतदान सुबह आठ बजे शुरू होकर दोपहर दो बजे खत्म हुआ। सरपंच की 341 और पंच की 1,798 सीटों के लिए 5,575 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं। उन्होंने बताया कि 85 सरपंच और 912 पंच निर्विरोध चुन लिए गए। मुख्य क्षेत्रीय पार्टियों- नेशनल कॉन्फ्रेंस और पीपुल्स डेमोक्रेटिक फ्रंट ने स्थानीय निकाय चुनावों में शामिल नहीं होने का निर्णय किया था। नौ चरणों में होने वाले पंचायत चुनाव 17 नवंबर से शुरू हुए थे और 11 दिसंबर को समाप्त होंगे।

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *