फेडरेशन ऑफ इंडियन पब्लिशर्स  ने जस्टिस प्रतिभा सिंह को आईपीसी-2023 में लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से किया सम्मानित

0

 

नई दिल्ली, 12 अगस्त, 2023 –

फेडरेशन ऑफ इंडियन पब्लिशर्स (एफआईपी) ने 11 और 12 अगस्त को नई दिल्ली में “इंडिया@2047: राष्ट्र निर्माण में प्रकाशन की भूमिका” थीम के साथ बहुप्रतीक्षित इंडियन पब्लिशर्स कॉन्फ्रेंस-2023 की मेजबानी कर ऐतिहासिक मील का पत्थर प्राप्त किया ।

फेडरेशन ऑफ इंडियन पब्लिशर्स ने जस्टिस प्रतिभा सिंह को उनके  योगदान के लिए ‘लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड ‘ से सम्मानित किया। यह प्रतिष्ठित सम्मान उनके निरंतर न्याय और साहित्य में की गई मेहनत की महत्वपूर्ण पहचान है, जो निष्पक्ष, जागरूक और न्यायसंगत समाज की ओर ले जाने वाले मार्ग पर एक प्रकाश  डालता है। जस्टिस प्रतिभा सिंह को यह प्रतिष्ठित लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड , फेडरेशन ऑफ इंडियन पब्लिशर्स के एमेरिटस प्रेजीडेंट श्री असोक के. घोष  द्वारा प्रदान किया गया।

सम्मान पत्र में लिखा है, ” उत्कृष्ट न्यायिक और बौद्धिक संपदा अधिकारों की चैंपियन होने के लिए लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया जाता है। कानून और साहित्य के दोहरे क्षेत्रों के लिए जस्टिस सिंह के अटूट समर्पण और अद्वितीय सेवा को स्वीकार करते हुए यह गहरा महत्व रखता है।”

इस महत्वपूर्ण अवसर पर विशेष अतिथि और मुख्य वक्ता के रूप में आदरणीय जस्टिस प्रतिभा सिंह जी उपस्थित थीं। जो न्यायिक क्षेत्र और साहित्य की दुनिया में अपने असाधारण योगदान के लिए एक प्रसिद्ध हस्ती हैं। उन्होंने अपने भाषण में जस्टिस सिंह ने कानून, साहित्य और विश्व मंच पर भारत की आकांक्षाओं की प्राप्ति के बीच सहयोगी  रिश्ते पर प्रकाश डाला।

न्याय के इतिहास में जस्टिस प्रथिबा सिंह की यात्रा की विशेषता सिद्धांतों के प्रति अटल समर्पण, सत्यनिष्ठा और कानून के शासन की पवित्रता को बनाए रखने के लिए अदम्य भावना से समर्पित है। उनके शानदार कानूनी कौशल और दृढ़ समर्पण ने भारतीय न्यायिक प्रणाली पर एक  छाप छोड़ी है और प्रेरणा की मिशाल के रूप मे  कार्य कर रही है।

फेडरेशन ऑफ इंडियन पब्लिशर्स के एमेरिटस  प्रेजीडेंट श्री असोक के. घोष ने अवार्ड प्रदान करते हुए कहा, “हम दिल्ली हाईकोर्ट की माननीय जस्टिस प्रथिबा एम सिंह को बौद्धिक संपदा अधिकारों में उनकी अपार विशेषज्ञता के लिए यह लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड प्रदान कर रहे हैं और यह बड़े गर्व की बात है की मैडम ने यह सम्मान को स्वीकारा हैं ।

About Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *